मुजफ्फरनगर में जातिगत संघर्ष में चली गोलियां, 18 लोग घायल

Google+ Pinterest LinkedIn Tumblr +

मुजफ्फरनगर के गांव भूपखेड़ी में छेड़छाड़ की घटना को लेकर दलित और ठाकुर बिरादरी के लोगों के बीच खूनी संघर्ष हो गया। गांव में गुरु समनदास जी के जन्मदिन के उपलक्ष्य में बुधवार रात दलित बस्ती में स्थित संत शिरोमणि गुरु रविदास आश्रम में सत्संग चल रहा था, जिसमें दलित समाज की युवतियां भी शामिल थीं। बताया जाता है कि रात में सत्संग के दौरान ठाकुर समाज के युवकों ने दलित युवतियों से छेड़छाड़ कर दी। विरोध करने पर दलित और ठाकुर समाज के लोग आमने-सामने आ गए थे। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर रात में मामला शांत करा दिया था। लेकिन बृहस्पतिवार सुबह छेड़छाड़ की घटना को लेकर दोनों समुदाय के युवकों में फिर से मारपीट हो गई। इसके बाद दोनों पक्षों के लोग आमने-सामने आ
गए और धारदार हथियारों से एक-दूसरे पर हमले किए गए। दोनों और से लोगों ने फायरिंग करते हुए पथराव करना शुरू कर दिया और गांव में अफरातफरी मच गई। हमले में दोनों पक्षों से करीब 18 लोग घायल हो गए।

मौके पर पहुंची कई थानों की पुलिस ने बमुश्किल स्थिति को संभाला और घायलों को अस्पताल पहुंचाया। पुलिस ने लाठियां फटकार कर भीड़ को खदेड़ा। सूचना पर एडीएम, एसपी देहात और एसडीएम गांव पहुंचे। अधिकारियों ने ग्रामीणों से घटना के बारे में जानकारी ली। पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में लिया है। गांव में तनाव के मद्देनजर पुलिस, पीएसी तैनात की गई है।

Share.

About Author

Comments are closed.