अगले शैक्षिक सत्र के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने जारी किये दिशानिर्देश

Google+ Pinterest LinkedIn Tumblr +

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यू जी सी) की गाइडलाइंस आने के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने भी अगले शैक्षिक सत्र के लिए गाइडलाइंस जारी कर दी हैं । कोरोना बीमारी की वजह से इस बार के शैक्षणिक सत्र में हमेशा से काफी अलग नियम देखने को मिलेंगे । जैसा कि हम देख ही रहे हैं इस साल का सेशन आरंभ होने में पहले ही काफी विलंब हो चुका है ऐसे में प्रदेश सरकार ने ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन फर्स्ट ईयर के लिए सेशन आरंभ करने की तारीखें भी घोषित कर दी हैं ।

जारी किए गए दिशानिर्देशों के अनुसार स्नातक प्रथम वर्ष की क्लासेस 01 अक्टूबर से और पोस्ट ग्रेजुएशन फर्स्ट ईयर की क्लासेस 01 नवंबर से आरंभ होंगी । इसके अलावा भी उत्तर प्रदेश सरकार ने कई दिशानिर्देश जारी किए हैं
● शिक्षक, डीन और एचओडीज़ 13 जुलाई 2020 से यूनिवर्सिटी अथवा कॉलेज आकर ई-कंटेंट तैयार करेंगे और उसे स्टूडेंट्स के लिए वेबसाइट पर अपलोड करेंगे ।

● हर कॉलेज अथवा यूनिवर्सिटी के डीन/कुलपति/एचओडी इस बात का ध्यान रखेंगे कि 31 जुलाई तक हर विषय का और हर विभाग का ई-कंटेंट बनकर तैयार हो चुका हो और केवल अपलोडिंग बाकी हो । इस कार्य के लिए खास बने स्मार्ट क्लासेस का इस्तेमाल किया जाए।

● यह ई-कंटेंट और वीडियो लेक्चर हर यूनिवर्सिटी ओपेन-एक्सेस लिंक के माध्मय से चैप्टर और सिलेबस के अनुसार वेब पोर्टल पर उपलब्ध कराएं ताकि यहां के साथ ही बाकी यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स भी इसका लाभ उठा सकें ।

● इन कामों के लिए जब भी फैकल्टी या अन्य स्टाफ को बुलाया जाए तो सैनिटाइजेशन आदि सभी जरूरी सावधानियां बरती जाएं । इसकी जिम्मेदारी कुलपति/कुलसचिव की होगी।

● 13 जुलाई से 03 अगस्त के बीच में शिक्षक सभी पैरेंट्स के साथ फोन पर संवाद स्थापित कर लें।

● ग्रेजुएशन फर्स्ट ईयर के लिए 15 सितंबर 2020 तक और पोस्ट ग्रेजुएशन फर्स्ट ईयर के लिए 31 अक्टूबर 2020 तक एडमीशन ले लिए जाएं। यह सारा कार्य ऑनलाइन ही होगा।

● अभी 45 दिनों तक केवल ऑनलाइन क्लासेस चलेंगी जो स्मार्ट क्लासेस के माध्यम से संचालित होंगी ।बाद में फिजिकल क्लासेस की व्यवस्था कोरोना को देखते हुए की जाएगी ।

Share.

About Author

Comments are closed.